संसद सत्र के लिए किए गई अभूतपूर्व फैसले, सोमवार से मानसून सत्र शुरू

14 सिंतबर को लोकसभा 9 बजे से 1 बजे तक और बाकी दिनों 3 बजे से 7 बजे तक चलेगी। जबकि राज्यसभा की कार्यवाही 14 सितंबर के बाद 9 बजे से 1 बजे तक होगी। इस बार संसद में प्रश्नकाल नहीं होगा हांलाकि अतांराकित प्रश्नों के जबाब  सदन के पटल पर रखे जायेंगे। लोकसभा में शून्यकाल के लिये आधा घंटा निर्धारित किया गया है।दोनों  सदनों में विधाई कार्यो की सूची में मानसून सत्र के दौरान कुछ अध्यादेसों को सदन के पटल पर रखने के अलावा करीब 8-9 बिल राज्यसभा और लोक सबा से पारित करने के लिए है जबकि तकरीबनएक दर्जन नए बिल भी सत्र के दौरान पेश किए जा सकते है।महत्वपूर्ण विधेयरों रो देखे तो पोर्ट संशोधन विधेयक,कंपनी संशोधन विधेयक,बैंकिग संशोधन विधेयक और राष्ट्रीय रक्षा विश्वविधालय विधेयक खास तौर से सरकार के एजेंडे में शामिल है।

इस बार सत्र के दौरान दर्शको को संसद भवन परिसर में अनुमति नही होगी। इस बार संसद  की कार्यवाही को पूरी तरह से कागज मुक्त करने का प्रयास किया जायेगा। सांसदों को सदन में आतांराकित प्रश्नों के लिये ई मेल का विकल्प दिया गया है। गौरतलब है कि संसद का मानसून सत्र 14 सितंबर से 1 अक्टूबर तक चलेगा और इस बार सत्र के दौरान कोई अवकाश नही रखा गया है।

संवाददाता ऋषि कुमार व शैलेंद्र मिश्र, नई दिल्ली

Full Story at DD News

Enter your email address:

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      IndiaClicking - Buzzing News & Stocks