बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार में एनडीए नेताओं ने विकास और सुशासन पर जनता से मांगे वोट

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण का चुनाव प्रचार समाप्त होने में एक सप्ताह भी कम वक्त बचा है। लिहाजा हर राजनीतिक पार्टी चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंकने के साथ ही एक दूसरे पर ताबड़तोड़ हमले कर रही है। लोकजनशक्ति पार्टी नेता चिराग पासवान ने एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमले किए हैं। अपने पिता रामविलास पासवान के श्राद्ध कर्म में लगे लोजपा प्रमुख चिराग पासवान चुनाव प्रचार से दूर हैं लिहाजा ट्वीट के जरिए लगातार जनता दल यूनाइटेड प्रमुख और राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला कर रहे हैं। अपने ताजा हमले में चिराग पासवान ने ट्वीट कर कहा कि (ग्राफिक्स इन) पिछले पांच सालों में बिहार में अफसरों का राज रहा है। सात निश्चय में कोई भी निश्चय पूरा नहीं हुआ। उन्होंने नीतीश कुमार से उनके पांच साल के कार्यों का ब्यौरा देने की भी चुनौती दी। (ग्राफिक्स आउट)

राज्य की राजनीति में रामविलास पासवान और लालू प्रसाद दो ध्रुव माने जाते रहे हैं। लेकिन सोमवार की सुबह लालू प्रसाद के राजनीतिक उत्तराधिकारी और महागठबंधन के मुख्यमंत्री प्रत्याशी तेजस्वी यादव ने न केवल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को खुले बहस की चुनौती दी बल्कि इशारों – इशारों में चिराग पासवान की तरफ दोस्ती का हाथ भी बढ़ा दिया। यह कहकर की नीतीश कुमार चिराग पासवान के साथ अन्याय कर रहे हैं।

उधर भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने तेजस्वी यादव की ओर लगातार की जा रही बयानबाजी को भ्रामक बताते हुए कहा कि वो जिस मंच पर चाहें उनसे बहस आकर कर सकते हैं। भाजपा नेता ने तेजस्वी के दस लाख युवाओं को रोजगार देने के दावे पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि राजद को पहले ये बताना चाहिए कि उनके 15 वर्षों के शासनकाल में कितने लोगों को नौकरी मिल पाई।

हालांकि कांग्रेस राज्य की जदयू और भाजपा गठबंधन सरकार पर बहस से पीछे हटने का आरोप लगा रही। पार्टी के चुनाव प्रभारी शक्तिसिंह गोहिल ने कहा कि अपने कामों पर बहस करने से पहले ये अपनी उपलब्धियां जनता से भी पूछ लें।

इस बीच बिहार में चुनावी प्रचार अब पूरी तरह से जोर पकड़ चुका है। एक तरफ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जहां आज गया, औरंगाबाद और जहानाबाद जिलों की पांच विधानसभाओं में चुनावी रैलियों को संबोधित किया वहीं राजद नेता तेजस्वी यादव ने पांच विधानसभा सीटों पर चुनावी रैली को संबोधित किया। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल और प्रभारी भूपेंद्र यादव ने दरभंगा और रक्सौल में पार्टी के पक्ष में प्रचार किए। उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने सोमवार को फारबिसगंज, नरपतगंज, पूर्णिया और कटिहार में पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में चुनावी रैलियों को संबोधित किया। लोजपा नेता चिराग पासवान पिता के श्राद्ध कर्म से निपटने के बाद 21 अक्टूबर से चुनाव प्रचार में कूदेंगे। बताया जा रहा है कि कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व भी 21 तारीख के बाद राज्य में चुनाव प्रचार में सक्रिय होगा। आगामी 23 अक्तूबर को भभुआ में बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती और रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा अपने प्रत्याशियों के पक्ष में चुनावी रैली को संबोधित करेंगे।

Full Story at DD News

Enter your email address:

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      IndiaClicking - Buzzing News & Stocks