बिहार में चुनावी सरगर्मियां तेज़, उम्मीदवारों के नामों की सूची को अंतिम रूप देने के लिए भाजपा की बैठक

बिहार चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों के नामों की सूची को अंतिम रूप देने की कोशिश के तहत सोमवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के घर पर बीजेपी नेताओं की बैठक हुई। इस बैठक में बिहार बीजेपी प्रभारी भूपेंद्र यादव, राज्य के चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी समेत बिहार बीजेपी के अनेक नेता शामिल हुए।

इससे पहले बीजेपी के केंद्रीय चुनाव समिति की रविवार देर शाम को भी पार्टी के केंद्रीय कार्यालय में बैठक हुई थी जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ,बीजेपी अध्य्क्ष जेपी नड्डा ,गृह मंत्री अमित शाह सहित बिहार बीजेपी के प्रमुख नेता बैठक में शामिल हुए थे और उम्मीदवारों के नाम पर विचार किया गया था। दिल्ली और पटना में पार्टी नेताओ के बीच कई दौर की बैठकें भी हो चुकी है।

इस बीच बिहार के पूर्णिया जिले के केहाट थाना क्षेत्र में एक दलित नेता की हत्या मामले में आरजेडी नेता तेजस्वी प्रसाद यादव और उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव सहित छह लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गयी है। भाजपा ने इस मामले पर जमकर हमला बोला।

रविवार सुबह नकाबपोश अपराधियों ने दलित नेता शक्ति मलिक के घर में घुसकर गोली मारकर उनकी हत्या कर दी। उनकी पत्नी ने राजनीतिक साजिश के तहत अपने पति की हत्या किए जाने का आरोप लगाया और कई नेताओं के नाम लिए । उन्होंने कहा कि उनके पति आरजेडी से निकाले जाने के बाद एक निदर्लीय उम्मीदवार के रूप में विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे। उनके बयान के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई है।

बिहार में विधानसभा चुनाव की तारीखो का ऐलान हो चुका है और ऐसे में हत्या का यह मामला ज़ोर पकड़ता जा रहा है। गौरतलब है कि बिहार में पहले दौर के मतदान के लिए 71 विधानसभा सीट पर 28 अक्टूबर को मतदान होना है। पहले चरण का लिए नामांकन भी शुरू है जो 8 अक्टूबर तक चलेगा..ऐसे में सभी दल अपनी अपनी उम्मीदवारों की सूची को अंतिम रूप देने में लगे हैं और बैठकों का दौर जारी है।

Full Story at DD News

Enter your email address:

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      IndiaClicking - Buzzing News & Stocks