डेढ़ महीने में पहली बार कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या 8 लाख से नीचे

देश के कुल सक्रिय मामलों की संख्या आज 7,95,087 है. यह आंकड़ा कुल मामलों का केवल 10.70प्रतिशत ही है. इससे पहले 1 सितंबर को कोविड मामलों की संख्या 8 लाख से नीचे (7,85,996) थी.

हर दिन ठीक होने वाले कोविड रोगियों की अधिकतम संख्या के साथ ही, भारत में सक्रिय मामलों की संख्या में लगातार गिरावट दर्ज करने का चलन जारी है.

भारत में इस महामारी से उबरने वालों की संख्या भी सर्वाधिक है. कुल 65 लाख से अधिक (65,24,595) रोगी इस संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं. सक्रिय मामलों और स्वस्थ होने वालों के बीच अंतर लगातार बढ़ रहा है और अब यह 57,29,508 तक पहुंच चुका है.

पिछले 24 घंटों में 70,816 रोगी ठीक हुए और उन्हें छुट्टी दे दी गई है, जबकि 62,212 नए पुष्ट हुए मामले हैं. देश में कोविड से स्वस्थ होने की दर 87.78 प्रतिशत हो गई है.

राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा संवर्धित देशव्यापी चिकित्सा अवसंरचना, केंद्र के मानक उपचार प्रोटोकॉल के कार्यान्वयन और डॉक्टरों, पैरामेडिक्स और पहली पंक्ति के कार्यकर्ताओं के समग्र समर्पण तथा प्रतिबद्धता के कारण ही भारत में मृत्यु दर में कमी आई है और इसके साथ ही रोगमुक्त होने वालों की कुल संख्या में लगातार वृद्धि हुई है. भारत एकमात्र ऐसा देश है, जहां पर सर्वाधिक कोविड मरीज़ ठीक हुए हैं और यह विश्व स्तर पर सबसे कम मृत्यु दर वाले देशों में से एक है. भारत में मृत्यु दर 1.52 प्रतिशत है. ये सक्रिय मामलों में लगातार गिरावट के परिणामस्वरूप हैं.

महाराष्ट्र में केवल एक दिन में 13,000 से अधिक मरीज़ स्वस्थ हुए हैं और इसके बाद कर्नाटक में 8,000 से अधिक रोगी संक्रमण मुक्त हुए हैं.

इनमें से 79 प्रतिशथ मामले 10 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से हैं. महाराष्ट्र अभी भी 11,000 से अधिक मामलों के साथ सबसे आगे है इसके बाद कर्नाटक और केरल आते हैं. इन दोनों राज्यों में 7,000 से अधिक नए मामलों की संख्या दर्ज की गई है.

पिछले 24 घंटों में 837 कोविड मरीज़ों की मौत हुई है. इनमें से लगभग 82 प्रतिशत मौतें दस राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में ही हुई हैं.

केंद्र, कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ सामूहिक लड़ाई में राज्य और केंद्रशासित प्रदेश सरकारों का पूरी तरह से समर्थन कर रहा है. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने केरल, कर्नाटक, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल में उच्च स्तरीय केंद्रीय दलों की प्रतिनियुक्ति की है. इन राज्यों में हाल के दिनों में नए कोविड रोगियों की संख्या में लगातार वृद्धि देखने को मिल रही है.

केंद्रीय दल कोविड महामारी के नियंत्रण, निगरानी, ​​परीक्षण, संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण उपायों तथा पॉजिटिव मामलों के कुशल नैदानिक ​​प्रबंधन को मजबूत करने की दिशा में राज्य के प्रयासों में पूरी मदद करेंगे. केंद्रीय दल समय-समय पर निदान और आगे की कार्रवाई से संबंधित चुनौतियों का प्रभावी ढंग से प्रबंधन करने में भी इनका मार्गदर्शन करेंगे.

Full Story at DD News

Enter your email address:

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      IndiaClicking - Buzzing News & Stocks